News In

No.1 News Portal of India

हरबर्टपुर: खनन माफिया जबरन कर रहा कॉलोनी का नामांकन,विरोध करने पर देता है जातिसूचक गालियां।

देहरादून:नगर पालिका हरबर्टपुर के वार्ड नंबर 1 बंसीपुर की एक कॉलोनी के मुख्य द्वार पर एक खनन माफिया के द्वारा जबरन कॉलोनी का नामांकरण कर एक बोर्ड लगाने की कोशिश करता है जिसका स्थानीय लोगों के द्वारा विरोध किया जाता है तो खनन माफिया पर जातिसूचक शब्दों का और अभद्र भाषा का प्रयोग करने का लगाया गया आरोप।

हरबर्टपुर वार्ड नंबर 1 की सभासद श्रीमती पम्मी देवी के द्वारा बताया गया कि उनके वार्ड नंबर 1 में कुछ दिनों से एक खनन माफिया अंकित चौहान अपने अवैध खनन के खनन भंडारण के चलते जबरन कॉलोनी के मुख्य द्वार पर भगत सिंह कॉलोनी वार्ड नंबर 5 विकासनगर का गेट नुमा बोर्ड लगा देता है जिसका स्थानीय लोग विरोध करते हैं इस संबंध में पुलिस से लेकर उच्च अधिकारियों तक स्थानीय लोग एक लिखित शिकायत दे चुके हैं लेकिन कार्यवाही के नाम पर ढाक के तीन पात। पम्मी देवी और स्थानीय लोगों ने बताया कि अंकित चौहान ने कॉलोनी के अंदर अपने अवैध खनन भंडारण बनाए हुए हैं जहां वह चोरी की खनन सामग्री एकत्रित कर बेचता है पता नहीं क्यों वह इस कॉलोनी पर अपना कब्जा दिखाना चाहता है और यहां रह रहे दलित समुदाय के लोगों पर भी अपना दबाव बनाने की कोशिश करता है और कहता है कि यदि तुम लोग मेरा विरोध करोगे तो मेरे ट्रक यहां डंपर चलते हैं जो तुम्हें रास्ते चलते कुचल देंगे।

कल दिन शनिवार रात्रि के समय अंकित चौहान अपने कुछ साथियों के साथ हरबर्टपुर बंशीपुर में पहुंचता है और फिर वहां एक और बोर्ड सरदार भगत सिंह, वार्ड नंबर 5 विकासनगर के नाम से लगाने का प्रयास करता है जिस पर स्थानीय लोग वार्ड नंबर 1 की वार्ड सदस्य श्रीमती पम्मी देवी को बुलाकर उन लोगों का विरोध करते हैं तो अंकित चौहान और उसके साथी उन लोगों के साथ यहां तक की वार्ड सदस्य पम्मी देवी के साथ भी अभद्र भाषा का और जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल कर भाग जाने की धमकी देते हैं इतने में मौके पर नगरपालिका हरबर्टपुर की टीम भी वहां पहुंच जाती है जो अंकित चौहान और उसके साथियों को समझाती है कि यह नगरपालिका हरबर्टपुर है ना कि वार्ड नंबर 5 विकासनगर है इस पर अंकित चौहान और उसके साथियों ने नगर पालिका परिषद के कर्मचारियों के साथ भी मारपीट और गाली गलोज शुरू कर दी।
पम्मी देवी के द्वारा बताया गया कि इस संबंध में पुलिस में एक लिखित शिकायत दे दी गई है अब देखना यह होगा कि आखिर पुलिस क्या कार्रवाई करती है।

राजिक खान

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: