News In

No.1 News Portal of India

निजी स्कूल की मनमानी अतिरिक्त शुल्क ना देने पर बच्चों को ऑनलाइन क्लास ग्रुप से रिमूव करने पर अभिभावकों ने किया विरोध प्रदर्शन

राजधानी देहरादून के रामपुर क्षेत्र में अल्टस इंटरनेशनल स्कूल के द्वारा ट्यूशन फीस के अलावा अतिरिक्त शुल्क की मांग और स्कूल द्वारा बच्चों को ऑनलाइन क्लास से रिमूव करने से नाराज अभिभावकों ने स्कूल के गेट पर पहुंच कर नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया।

आपको बता दें कि अभिभावकों का आरोप है कि उनके बच्चे दा अल्टस इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ते हैं जिसकी वह लगातार समय-समय पर फीस भी जमा करते हैं लॉक डाउन की वजह से उनके कारोबार रोजगार पर खासा असर पड़ा है जिससे उनको अपनी दो वक्त की रोटी जुटाना भी मुश्किल हो रहा है ऐसे में स्कूल के द्वारा ट्यूशन फीस के अलावा मिसलेनियस एक्सपेंस,एक्टिविटी चार्जेस, मेंटेनेंस चार्ज, एग्जामिनेशन फीस,डेवलपमेंट फीस और कंप्यूटर फीस की भी मांग की जा रही है जिसको देने में असमर्थ हैं अभिभावकों का कहना है कि वह शासनादेश के अनुसार अपने बच्चों की ट्यूशन फीस जमा करने को तैयार हैं लेकिन स्कूल एक्स्ट्रा फीस साथ में लेने पर अड़ा हुआ है और सिर्फ ट्यूशन फीस लेने को तैयार नहीं है जिससे उनकी दो-तीन महीने की फीस जमा होने से रह गई है और अब स्कूल के द्वारा उनके बच्चों को ऑनलाइन ग्रुप से रिमूव कर दिया गया है जिससे नाराज होकर अभिभावकों ने अकील अहमद के नेतृत्व में स्कूल में पहुंचकर जमकर नारेबाजी और विरोध प्रदर्शन किया।

इस पूरे मामले पर स्कूल संचालक का कहना है कि ऑनलाइन मेन क्लासेज के अलावा उन्होंने एक्स्ट्रा क्लासेस दी हैं तो वह एक्स्ट्रा चार्जेस लेने के भी हकदार हैं और उन्होंने यह भी कहा कि जिसको जहां शिकायत करनी है कर दे यह हमारा लीगल राइट है और शासन द्वारा जारी जिओ में भी हमें एक्स्ट्रा क्लासेस का चार्ज लेने को कहा गया है और अभिभावकों को शासन द्वारा जारी जिओ की जानकारी लेने के बाद 7 दिन का समय देते हुए फीस जमा करने को कहा गया।
मु.स.-राजिक खान।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: