News In

No.1 News Portal of India

देहरादून में प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर बरसे राहुल गांधी,कहा दो-तीन पूंजीपतियों के लिए काम कर रही सरकार

देहरादून : कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बृहस्पतिवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर जनता के हितों की कीमत पर दो-तीन पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने का आरोप लगाते हुए कहा कि जब तक इनकी सरकार नहीं हटेगी तब तक बेरोजगारी, मंहगाई जैसी समस्याओं का समाधान नहीं होगा.

यहां परेड ग्राउंड में कांग्रेस की ‘विजय सम्मान रैली को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा कि आज देश को बांटा जा रहा है, कमजोर लोगों को सताया जा रहा है और केंद्र की पूरी सरकार केवल दो- तीन पूंजीपतियों के लिए चलाई जा रही है.

उन्होंने कहा कि किसानों के खिलाफ बनाए गए काले कृषि कानूनों को वापस लेते समय प्रधानमंत्री ने अपनी गलती स्वीकार की और माफी मांगी. राहुल ने कहा कि यह प्रधानमंत्री की गलती नहीं बल्कि एक ‘साजिश’ थी. उन्होंने कहा, ‘ यह काम दो-तीन उद्योगपतियों के लिए किया जा रहा था. हिंदुस्तान के हरेक किसान की मेहनत, उसकी आमदनी उससे छीनी जा रही थी.’ राहुल ने नोटबंदी, गलत जीएसटी और कोरोना संकट के दौरान बडे़ उद्योगपतियों के लिए कर माफी को छोटे और मध्यम व्यापारियों, किसान और मजदूरों पर दो-तीन पूंजीपतियों का ‘आक्रमण’ बताया.

उन्होंने कहा कि ऐसा करके नरेंद्र मोदी सरकार ने रोजगार देने की क्षमता रखने वाले छोटे और मझोले व्यापारियों और दुकानदारों को भी नष्ट कर दिया. उन्होंने कहा, ‘नोटबंदी और जीएसटी पूंजीपतियों के हथियार हैं और नरेंद्र मोदी जी इम्पलीमेंटर है.’ राहुल ने कहा कि जब तक दिल्ली से भाजपा की सरकार नहीं हटेगी, तब तक युवाओं को इस देश में रोजगार नहीं मिल सकता.

उन्होंने कहा कि देश में ढांचागत सुविधाएं, सडकें, हवाई अडडे, खानें आदि सब इन दो-तीन पूंजीपतियों के हाथ में जाता चला जा रहा है.

कांग्रेस नेता ने कहा कि यह गलतफहमी है कि देश मजबूत हो रहा है क्योंकि हैलीकॉप्टर, हवाई जहाज और तोपों से देश मजबूत नहीं होता बल्कि वह तब मजबूत होता है जब देश का नागरिक मजबूत होता है.

उन्होंने मंहगाई बढाने के लिए भी केंद्र सरकार की आलोचना की और कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतों में गिरावट के बावजूद देश में भारी भरकम कर लगाकर उसके दाम बढाए जा रहे हैं. नरेंद्र मोदी सरकार पर पैट्रोल डीजल के जरिए 10 लाख करोड रू जनता से छीनकर अरबपतियों का कर्जा माफ करने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘ जब आप पैट्रोल पंप पर तेल भरवाते हैं तो आपकी जेब से निकलकर पैसा सीधा दो-तीन अरबपतियों की जेब में जाता है क्योंकि वे नरेंद्र मोदी की मार्केटिंग करते हैं.’ गांधी ने हाल में दिवंगत देश के प्रथम प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत को भी श्रद्धांजलि दी और कहा कि उनका उत्तराखंड के साथ ‘कुर्बानी का रिश्ता’ है.

अपनी दादी इंदिरा गांधी और पिता राजीव गांधी को याद करते हुए उन्होंने कहा कि जो कुर्बानी उत्तराखंड के हजारों परिवारों ने दी है वहीं कुर्बानी उनके परिवार ने भी दी. उन्होंने कहा, ‘जिस परिवार, जिस व्यक्ति ने कभी कुर्बानी नहीं दी, उन्हें ऐसी बात कभी समझ में नहीं आ सकती.’ बांग्लादेश निर्माण के लिए भारत और पाकिस्तान के बीच हुए युद्ध के 50 साल पूरे होने के मौके पर दिल्ली में हुए समारोह का जिक्र करते हुए गांधी ने इस बात पर आश्चर्य जताया कि देश के लिए 32 गोलियां खाने वाली प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का निमंत्रण पत्र पर भी नाम नहीं आया. उन्होंने कहा कि वह जानते हैं कि इंदिरा गांधी ने देश के लिए क्या किया इसलिए उसे समझाने की कोई जरूरत नहीं है.

अगले साल की शुरूआत में होने वाले विधानसभा चुनावों की बात करते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि जब उनकी पार्टी सत्ता में आएगी तो दो-तीन पूंजीपतियों को ध्यान में रखकर नहीं बल्कि जनता को ध्यान में रखकर कानून बनाए जाएंगे. उन्होंने कहा कि किसानों की रक्षा होगी, छोटे और मध्यम व्यापारियों और दुकानदारों को सहायता दी जाएगी तथा युवाओं के लिए रोजगार के अवसर पैदा होंगे.

रैली के दौरान राहुल गांधी ने पूर्व सैनिकों को शॉल ओढाकर सम्मानित भी किया.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: