News In

No.1 News Portal of India

विशेषज्ञों ने सरकार को कोरोना की तीसरी लहर से आगाह किया है, बच्चों को लेकर हो जाएं सावधान

नई दिल्ली : कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप देश झेल भी नहीं पा रहा है कि अब इसके तीसरी लहर और उसके खतरे के बारे में बातें होने लगी हैं। भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के विजय राघवन ने कहा है कि देश में कोरोना की तीसरी लहर आनी तय है। इसे टाला नहीं जा सकता लेकिन यह तीसरी लहर कब आएगी, इसके बारे में निश्चित रूप से अभी कुछ नहीं कहा जा सकता। कोरोना की तीसरी लहर के बारे में वायरोलॉजिस्ट डॉ रवि ने भी चेताया है। डॉ. रवि ने कहा है कि कोरोना की तीसरी लहर बच्चों को बड़े स्तर पर प्रभावित करेगी। इस तीसरी लहर से निपटने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों को मिलकर एक रणनीति तैयार करनी चाहिए। डॉ. रवि का कहना है कि कोरोना की यह तीसरी लहर अक्टूबर और दिसंबर के बीच आ सकती है।

सरकार को लेने होंगे कुछ बड़े फैसले

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने कहा, ‘अगले साल अकादमिक वर्ष के लिए स्कूल खुलेंगे और तीसरी लहर में बच्चे पर खतरे को देखते हुए सरकार को कुछ नीतिगत बड़े फैसले करने चाहिए। बच्चों का टीकाकरण नहीं होने से उनके इस तीसरी लहर की गिरफ्त में आने का खतरा ज्यादा रहेगा।’ कर्नाटक कोविड टेक्निकल सलाहकार समिति के सदस्य डॉ. रवि ने कोरोना संक्रमति बच्चों का इलाज करने के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ढांचे को चुस्त-दुरुस्त रखने की सलाह दी है। उन्होंने कहा, ‘हमारे पास कोविड संक्रमित बच्चों का इलाज करने के लिए पर्याप्त संस्ख्या में कोरोना केयर वार्ड और आईसीयू नहीं है, हमें इसे तत्काल बढ़ाने की जरूरत है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: