News In

No.1 News Portal of India

उत्तराखंड सरकार को चार धाम यात्रा पर हाई कोर्ट की लताड़

देशभर में कोरोना के ढाई लाख से अधिक की संख्या हर रोज, मरने वालों की संख्या चार हजार के पार यह आंकड़ों की सच्चाई है जिससे हम सब दो चार हो रहे हैं। देश के हर एक सूबे की तस्वीर कमोबेश एक ही तरह की है। इन सबके बीच उत्तराखंड सरकार ने चारधाम यात्रा की इजाजत दे दी है। लेकिन उत्तराखंड हाईकोर्ट ने सरकार के फैसले की आलोचना करते हुए तल्ख टिप्पणी भी की।

उत्तराखंड हाईकोर्ट की तल्ख टिप्पणी

उत्तराखंड उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश आरएस चौहान और न्यायमूर्ति आलोक वर्मा की पीठ ने राज्य सरकार को पहले कुंभ मेले और अब चारधाम को अनुमति देने के लिए फटकार लगाई और कहा कि “जाओ और देखो कि क्या हो रहा है”।

बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री की यात्रा

बता दें कि उत्तराखंड सरकार ने कोविड गाइडलाइंस के तहत चारधाम यात्रा की इजाजत दी है।
चारधाम यात्रा इसी महीने से शुरू होने जा रही है। इसमेंबद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमनोत्री की यात्रा की जाती है। इसमें लाखों की संख्या में हर साल श्रद्धालु उत्तराखंड आते हैं। इस साल के लिए पवित्र धार्मिक स्थलों के कपाट खोलने की तारीख तय हो गई है। चारधाम यात्रा के संदर्भ में सरकार ने कहा था कि हर एक श्रद्धालु को गाइडलाइंस का पालन करना होगा। हालांकि विपक्ष ने सरकार के इस फैसले पर ऐतराज जताया था। विपक्ष का कहना था कि उत्तराखंड सरकार लोगों की जान से खेल रही है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: