News In

No.1 News Portal of India

उत्तराखंड पुलिस में शामिल हुए 17 नए पुलिस उपाधीक्षक

पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय में साढ़े बारह महीने के कठिन प्रशिक्षण के बाद 17 पुलिस उपाधीक्षक प्रशिक्षु बृहस्पतिवार को उत्तराखंड पुलिस में शामिल हो गए। बृहस्पतिवार को पीटीसी में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत नै पासिंग आउट परेड की सलामी ली। उन्होंने पुलिस उपाधीक्षक प्रशिक्षुओं को जन सेवा की शपथ दिलाई। सीएम ने पीटीसी में ऑडोटोरियम बनाने, साइबर क्राइम रोकने के लिए कोर्स शुरू करने, पुलिस प्रशिक्षण संस्थान में कार्यरत प्रशिक्षकों को मानदेय देने की घोषणा भी की। इस मौके पर उन्होंने साइबर अपराधों पर लगाम कसने के लिए ई-सुरक्षा चक्र के तहत साइबर हेल्प लाइन नंबर 155260 का शुभारंभ किया। प्रशिक्षण के दौरान उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले प्रशिक्षुओं को मुख्यमंत्री ने सम्मानित किया।

मुख्य अतिथि सीएम तीरथ सिंह रावत ने कहा कि वर्तमान में स्मार्ट पुलिसिंग की जरूरत है। साइबर अपराध को लेकर अलग से कोर्स शुरू किया जाएगा। पुलिस अन्य अपराधों के अलावा साइबर और संगठित अपराधों पर रोक लगाकर राज्य में चौतरफा सुरक्षा का माहौल तैयार करेगी। उत्तराखंड की विषम भौगोलिक परिस्थितियों को देखते हुए यहां पुलिस को कानून व्यवस्था के साथ-साथ आपदा सहित अनेक चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। कोविड-19 के दौरान पुलिस की भूमिका सराहनीय रही है।
कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि पुलिस का काम जोखिम भरा और विश्वास का होता है। वर्तमान में साइबर क्राइम और नशे के खिलाफ बड़ा अभियान चलाने की जरूरत है। इस मौके पर पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने कहा 17 सीओ मिलने से पुलिस अधिकारियों की कमी काफी हद तक पूरी होगी। प्रशिक्षण के दौरान दी गई सीख को युवा अधिकारी जीवन में उतारें, तभी सफलता मिलेगी। प्रशिक्षण के दौरान अधिकारियों ने बहुत सारा ज्ञान और कौशल अर्जित किया होगा, लेकिन उनमें अनुशासन सर्वोपरि है। पीटीसी के निदेशक राजीव स्वरूप ने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान मानवाधिकार, संगीन अपराधों की विवेचना, वैज्ञानिक उपकरणों का उपयोग, सर्विलांस, साइबर अपराध विषय पर गहन प्रशिक्षण दिया गया। इस मौके पर अपर पुलिस महानिदेशक डा. पीवीके प्रसाद, डीएम इवा आशीष श्रीवास्तव, एसएसपी तृप्ति भट्ट, पुलिस महानिरीक्षक प्रशिक्षण पूरण सिंह रावत, पुलिस उपाधीक्षक पीटीसी दिनेश चंद्र बडोला, हितेश कुमार आदि मौजूद रहे।

रीना राठौर को स्वार्ड ऑफ ऑनर

प्रशिक्षण के दौरान उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले प्रशिक्षुओं को सीएम तीरथ सिंह रावत ने सम्मानित किया। महिला वर्ग में रीना राठौर प्रथम, नताशा सिंह द्वितीय रही। पुरुष प्रशिक्षु वर्ग में अभिनव चौधरी ने प्रथम व स्वपनिल मुयाल ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। प्रशिक्षण के सर्वोत्तम प्रदर्शन हेतु सीएम ने रीना राठौर को स्वार्ड ऑफ ऑनर से सम्मानित किया। लोक सेवा आयोग से चयनित महिला वर्ग में 7 और पुरुष वर्ग में 10 प्रशिक्षु पुलिस उपाधीक्षक दीक्षांत परेड के उपरांत बृहस्पतिवार को विधिवत उत्तराखंड के पुलिस के अंग बने गए।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: