News In

No.1 News Portal of India

पछवादून में राशन डीलर कार्ड धारक उपभोक्ताओं के साथ कर रहे हैं धोखा

राजधानी देहरादून-कोरोना महामारी के चलते केंद्र सरकार की ओर से गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाले कार्ड धारकों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत प्रति यूनिट 5 किलो राशन मुफ्त दिया जा रहा है और साथ ही कार्ड धारकों को प्रतिमाह कार्ड पर निर्धारित नगद राशन भी ग्राहकों को दिया जाना है लेकिन विकासनगर क्षेत्र के राशन डीलर ग्राहकों को भ्रमित कर मुफ्त दिया जाने वाला राशन तो दे रहे हैं मगर कार्ड पर निर्धारित प्रतिमाह नकद दिया जाने वाला राशन देने में बहाने बना रहे हैं।

सूत्रों की माने तो राशन डीलर उपभोक्ताओं को मुफ्त दिए जाने वाले राशन में ही टाल देते हैं और सरकार द्वारा कार्ड धारकों को निर्धारित दिये जाने वाले राशन को बचा कर उस राशन की कालाबाजारी करते हैं और उपभोक्ता खुद को मिले मुफ्त राशन पर ही संतोष कर लेता है

सूत्रों के हवाले से यह भी पता चला है कि कार्ड धारकों का बचाया हुआ निर्धारित राशन को राशन डीलर राशन के कट्टे बदलकर बेखौफ होकर गाड़ियों में भरकर खुलेआम राशन माफियाओं तक पहुंचाते हैं।

उपभोक्ता ने आरोप लगाया है कि राशन डीलर के द्वारा उनको नगद दिया जाने वाला राशन तो दूर फ्री मिलने वाले राशन में भी प्रति यूनिट के हिसाब से राशन कम दिया जा रहा है।

http://https://youtu.be/AW9fnvPAZHc

जब इस संबंध में क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी से पूछा गया तो उनका कहना था कि राशन डीलरों ने कार्ड धारकों का जून माह तक का फ्री और नगद दीया जाने वाला पूरा राशन गोदाम से उठा लिया है तो उपभोक्ताओं को राशन देने में राशन डीलर क्यों आनाकानी कर रहे हैं और उन्होंने यह भी कहा कि यदि कोई भी राशन डीलर इस तरह की हरकत करता हुवा पाया जाता है तो उसके विरुद्ध नियमानुसार दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी और तो और उसके खिलाफ पुलिस में मुकदमा भी पंजीकृत कराया जाएगा।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: